News Update

प्राचीन नगर सेतरावा जो जोधपुर जिले में स्थित है। वहां स्थित 800 वर्ष प्राचीन श्री आदिनाथ जिन मंदिर का जीर्णोद्धार प   Read more..

Why with us?

program

पूज्य गुरुदेव खरतरगच्छाधिपति आचार्य भगवंत श्री जिनमणिप्रभसूरीश्वरजी म.सा. आदि ठाणा बीकानेर चातुर्मास की पूर्णा  Read more..

new event

चित्तौड़ नगर में अंजनशलाका प्रतिष्ठा संपन्न

सुप्रसिद्ध आचार्य श्री हरिभद्रसूरि की जन्म स्थली, आचार्य जिनवल्लभसूरि की क  Read more..

magazine
Jahaj Mandir
May,  2017

Download

Video

Links

You can visit our other websites & blogs on these links here -
jainebook.com     pedhi.com    Flickr.com    jahajmandir.blogspot.in

Blog

संसार में जो भी दुःख है, वो सब हमारे अज्ञान के कारण है । ज्ञान के अभाव में हम देव गुरु और धर्म की पहचान नही कर पा रहे है। उसी कारण हमारा चार गति में भटकना जारी है । ज्ञान के अभाव में जो ग्रहण करना चाहिए उसे हम छोड़ देते है, तुच्छ चीजों को पकड़ के रखते है, सही और गलत का निर्णय भी हम अज्ञान के कारण नही कर पा रहे है । संसार छोड़ने के लिए है । संयम पालन के लिये है ।
Read more..

Nav Prabhat

जब मन एक नए पुष्प की भाँती खिला हो, तो रात के अँधेरे में भी नवप्रभात का आगमन होता है। जब मैं एकांत का अनुभव करता हूँ तो भावों के प्रवाह की शब्दों से प्रस्तुति हो जाती हैं... --उपाध्याय मणिप्रभसागरजी म. सा.
Read more..

Jata Shankar

जटाशंकर कोई व्यक्ति नहीं है। यह वह पात्र है जो हर व्यक्ति के भीतर छिपा बैठा है। जीवन में व्यक्ति विविध घटनाओं से गुजरता है! अच्छी भी, बुरी भी! उन क्षणों में मानसिकता भी उसी प्रकार की हो जाती है। तब एक सच्चे सलाहकार की आवश्यकता होती है, जिससे जान सकें कि उन क्षणों में उचित उपाय क्या है? यह गहरी से गहरी बात हँसी द्वारा हमें समझा देता है। यही इसकी विशिष्टता है।
Read more..

Jahaj Mandir Tour

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Events

 

चित्तौड़ नगर में अंजनशलाका प्रतिष्ठा संपन्न

सुप्रसिद्ध आचार्य श्री हरिभद्रसूरि की जन्म स्थली, आचार्य जिनवल्लभसूरि की कर्मस्थली, दादा गुरुदेव श्री जिनदत्तसूरि की आचार्य पद स्थली राजस्थान की ऐतिहासिक स्थली चितौड नगर में श्री नाकोडा

Read More

पूज्यश्री का अपनी जन्मभूमि मोकलसर में प्रवेश

पूज्य गुरुदेव प्रज्ञापुरूष आचार्य भगवंत श्री जिनकान्तिसागरसूरीश्वरजी म.सा. के शिष्य पूज्य गुरुदेव वर्तमान गच्छाधिपति आचार्य भगवंत श्री जिनमणिप्रभसूरीश्वरजी म.सा. पूज्य मुनि श्री मनितप्

Read More

केयुप केलेण्डर-2018 का विमोचन

अखिल भारतीय खरतरगच्छ युवा परिषद् केयुप द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी भव्य केलेण्डर का प्रकाशन किया गया है। इस केलेण्डर की थीम खरतरगच्छ के एक हजार वर्ष पूर्णाहुति के उपलक्ष्य में दाद

Read More

Contact With Us

 

Shri Jin Kantisagarsuri Smarak Trust
Jahaj Mandir

Mandawala - 343042
Jalore, Rajasthan (India)
Phone: 02973 - 256107

Mobile: 91 9649640451, 9825105823, 97843 26130